स्टॉक मार्केट में Smart Money को कैसे ट्रैक करें? Retailers Vs Smart Money

अगर आप भी एक रिटेल यूजर हो और स्टॉक मार्केट में प्रॉफिटेबल नहीं हो पा रहे हो.तो आज इस आर्टिकल में मैं आपको स्टॉक मार्केट में Smart Money को कैसे ट्रैक करें? सीखने वाला हूं.जिसको अगर आप सीख लेते होतो स्टॉक मार्केट में आपको यह बहुत ज्यादा मदद करने वाला है.

जैसा कि आपको पता है स्टॉक मार्केट में 90% से भी ज्यादा यूजर नेगेटिव में होते हैं यानी कि जितने भी रिटेल यूजर होते हैं सभी अपनी पोजीशन को नेगेटिव में ही क्लोज करते हैंऔर इसका सबसे बड़ा कारण है कि बाजार उनके हिसाब से बिल्कुल नहीं चलता है.जो भी एक रिटेल यूजर्स सोचता है बाजार में हमेशा उसका उल्टा ही होता है और कहीं ना कहीं एक रिटेल यूजर अपने दिन के अंत में नेगेटिव में अपने पोजीशन को क्लोज करता है.


तो आज इस आर्टिकल में यही जानेंगे कि ऐसा क्यों होता है और कैसे आप स्मार्ट मनी कांसेप्ट को फॉलो करकेनेगेटिव से पॉजिटिव में दिन के अंत को क्लोज कर सकते हो तो चलिए शुरू करते हैं.


(toc)

Retailers Vs Smart Money


चलिए जानते हैं स्टॉक मार्केट में Smart Money को कैसे ट्रैक करें? स्मार्ट मनी को ट्रैक करने के लिए आपको समझना होगाकी रिटेलर और स्मार्ट मनी बाजार में काम कैसे करते हैं. अगर आपको स्मार्ट बनी कॉन्सेप्ट से प्रॉफिटेबल बना है तो स्मार्ट मनी कैसे काम करता है और एक रिटेल यूजर कैसे काम करता है दोनों को ही जानना जरूरी है तो चलिए जानता है.



Retailers के काम करने का तरीका 


सबसे पहले जानते हैं की बाजार में एक रिटेल यूजर को क्या सिखाया जाता है उसके साइकोलॉजी क्या होती है और वह किस तरीके से बाजार में काम करता है.


जैसा कि हम सभी जानते हैं कि जब भी एक कोई नया यूजर बाजार को सीखने के लिए आता है तो उसकी तीन से चार चीज सिखाई जाती है और उसी के आधार पर वह बाजार में काम करता है.

  • Chart Pattern
  • Breakout & Breakdown
  • Support & Resistance
  • Trendline

जब भी एक रिटेल यूजर बाजार में आता है तो उसको यही सिखाया जाता है की चार्ट पेटर्न को फॉलो करो. जब भी किसी चार्ट पेटर्न का ट्रेंड लाइन, सपोर्ट और रजिस्टेंस का,ब्रेकआउट या फिर ब्रेकडाउन हो तो आपको उस दिशा में अपना ट्रेड लेना सिखाया जाता है.यानी अगर ब्रेकआउट हो रहा हैतो आप खरीदी कर सकते हो और ब्रेकडाउन हो रहा है तो आप बिकवाली कर सकते हो. 

Retailers की कमियां


रिटेल यूजर कैसे काम करता है यह हमने जान लिया अब जानते हैं कि बाजार में रिटेलर्स की कमियां क्या होती है.क्योंकि जब तक किसी की कमजोरी का पता नहीं चलेगा तब तक उसका फायदा आप नहीं उठा पाओगे.


जैसा कि हम सभी जानते हैं रिटेलर बाजार में हमेशा जल्दी अमीर होने के लिए आते हैं और यह सबसे बड़ी उनकी कमी होती है इसी के कारण वह धीरे-धीरे करके अपना कैपिटल खत्म कर देता है

  1. Patience की कमी हर एक रिटेल यूजर में होती है.जब भी वहां कोई भी पोजीशन बनता है तो उसे बहुत जल्दी स्क्वायर ऑफ कर देता है क्योंकि उसमें पेशेंस नहीं है उसे पोजीशन बनते ही उसमें प्रॉफिट चाहिए.
  2. FOMO: Fear Of Missing Out प्रत्येक रिटेल यूजर मेंसबसे बड़ी कमी होती है कि जब भी उसे बाजार में कोई Move छूट जाता है तो उसे बहुत ज्यादा पछतावा होता है वह बार-बार इस तरीके के मुंह को अपने दिमाग में सोचता है और उसे दिशा में ट्रेड करता है जो की बहुत गलत होता है.

Smart Money कैसे काम करता है 


चलिए आप जानते हैं स्टॉक मार्केट में Smart Money को कैसे ट्रैक करें? स्मार्ट मनी के काम करने का तरीका क्या होता है? जैसा कि मैं आपके ऊपर बताया एक रिटेल यूजर के पास काफी सारी वीकनेस होती है और उसी के साथ उसके पास कैपिटल कम होता है .


वहीं दूसरी ओर स्मार्ट मनी की कोई भी वीकनेस नहीं होती, स्मार्ट मनी कभी भी इमोशन से काम नहीं करते.और स्मार्ट मनी के पास कैपिटल बहुत बड़ा होता है.खाने का मतलब यह है कि स्मार्ट मनी के पास स्ट्रैंथ होती है.


तो जैसा मैंने आपके ऊपर बतायाकि जब भी रिटेल यूजरजो की किसी पैटर्न का सपोर्ट और रजिस्टेंस का ब्रेकआउट या फिर ब्रेकडाउन पर ट्रेड लेता है स्मार्ट मनी वहां पर हमेशा उनके अपोजिट ट्रेड लेते हैं. क्योंकि स्मार्ट मनी के पास कैपिटल बहुत बड़ा होता है तो वह बाजार को किसी भी दिशा में लेकर चले जाते हैं.


यही कारण है कि जब भी रिटेल यूजर कोई भी ट्रेड लेता है तो हमेशा उसका स्टॉपलॉस हिट होता है क्योंकि स्मार्ट मनी हमेशा रिटेलर के स्टॉप लॉस को खाता है और यही इनके काम करने का तरीका होता है.

तो अगर आपको स्मार्ट मनी कॉन्सेप्ट से काम करना हैतो साइकोलॉजी और स्टॉप लॉस हंटिंग सीखना होगा.


यानी जितने भी रिटेल यूजर है उनका स्टॉप लॉस कहां पर है यह आपको पता करना होगा और जब आप यह पता कर लोगेतो उनका स्टॉपलॉस हिट होगा और वहीं दूसरी ओरआपका टारगेट Hit होगा.

निष्कर्ष 


इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको बताया स्टॉक मार्केट में Smart Money को कैसे ट्रैक करें? अगर आपको स्मार्ट बनी के साथचलना हैतो रिटेलर्स की चाल को समझो,रिटेलर्स के स्टॉप लॉस को ढूंढो, यानी कि किस ब्रेकआउट और ब्रेकडाउन पर रिटेलर्स एंट्री बनाएंगेया आपको चार्ट में ढूंढना है और उसके ऑपोजिट आपको काम करना है.


अगर आपको स्मार्ट मनी कॉन्सेप्ट पर और आर्टिकल चाहिए तो आप हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं.

Post a Comment

1 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

#buttons=(Ok, Go it!) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Ok, Go it!